मछलीघर
मछली क्या है ?

मछली के पास एक छोटा मस्तिष्क होता है, यह एक असमतापी जीवधारी है जिसमें सख्त हड्डियों का एक ढांचा या नरम कार्टिलेज होता है, इसमें एक जोड़ा या मात्र एक पंख (फिन) होता है और यह गिल के सहारे, उस पानी से जिसमें मछली रहती है, ऑक्सीजन प्राप्त कर साँस लेती है । विशेष रूप से उनका सिर नुकीला और शरीर सरल और कारगर होता है । पूँछ-पंख आगे की ओर जोर लगाता है, पीठ और गुदीय फिन बहने से रोकते है जबकि श्रोणीय (पेल्विक) और अंस-पंख (पेक्टोरल फिन्स) आगे बढ़ने और रूकने के काम आते हैं ।

आंचलिक विज्ञान केन्द्र, गुवाहाटी में मछली घर मौजूदा अनेक सुविधाओं में एक और संयोजन है । हमारे देश के पूर्वोत्तर क्षेत्र में ऐसी सुविधा प्रथम है । इस मछलीघर परिसर में 16 टैंक हैं जिसमें आलंकारिक और खाद्य मछलियाँ दोनों की 30 से अधिक प्रजातियाँ हैं । इसके अतिरिक्त, मछली और मत्स्य जीव विज्ञान पर एक प्रदर्शनी विद्यार्थियों और आम दर्शकों को यह विषय समझने में मदद करेगा ।

इन सुन्दर जीवधारियों को देखने और उनके जीव विज्ञान को समझने के लिए, कृपया मछली घर दीर्घा देखें

 
 
         

         
कॉपीराइट 2015, @ आंचलिक विज्ञान केन्द्र,  
web.com (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड द्वारा संचालित है